Zindademocracy

वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने कांग्रेस से दिया इस्तीफ़ा, BJP में शामिल होने की संभावना उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक हलचल जारी है, आरपीएन सिंह को लेकर ऐसी अटकलें हैं कि बीजेपी उनको स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ टिकट दे सकती है।

नई दिल्ली | कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह (RPN Singh) ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेज दिया है. ऐसी खबरें आ रही हैं कि वो बीजेपी ज्वाइन कर सकते हैं। आरपीएन सिंह ने खुद ट्विटर पर अपने इस्तीफे की खबर दी है।

आरपीएन सिंह ने कहा – आज, जब पूरा राष्ट्र गणतंत्र दिवस का उत्सव मना रहा है, मैं अपने राजनैतिक जीवन में नया अध्याय आरंभ कर रहा हूं। जय हिंद

आरपीएन सिंह ने सोनिया गाँधी को भेजा हुआ अपना इस्तीफे की कॉपी ट्विटर पर शेयर की।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक हलचल जारी है, आरपीएन सिंह को लेकर ऐसी अटकलें हैं कि बीजेपी उनको स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ टिकट दे सकती है।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कुछ दिन पहले ही बीजेपी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुए हैं। उनके साथ बीजेपी के कई विधायक भी पार्टी छोड़कर साइकिल पर सवार हो गए, बीजेपी के लिए ये बड़ा झटका माना जा रहा है, चुनाव से ऐन वक्त पहले कई नेता पार्टी छोड़ गए, ऐसे में आरपीएन सिंह अगर बीजेपी ज्वाइन करते हैं, तो बीजेपी के लिए फायदा हो सकता है।

आरपीएन सिंह कुशीनगर के पडरौना के रहने वाले हैं। पडरौना में आरपीएन सिंह को राजा साहब कहा जाता है। वह 1996 से 2009 तक पडरौना से कांग्रेस के विधायक रह चुके हैं। 2009 में वह कुशीनगर सीट से लोकसभा सांसद चुने गए। वह यूपीए-2 सरकार में सड़क परिवहन, पेट्रोलियम और गृह राज्य मंत्री भी रह चुके हैं।

आरपीएन सिंह कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बेहद करीबी नेता माने जाते हैं। वह टीम राहुल का अहम चेहरा रहे हैं टीम राहुल के सदस्य रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया और जितिन प्रसास पहले ही बीजेपी में शामिल हो चुके हैं। माना जा रहा है कि आरपीएन सिंह के बीजेपी की तरफ जाने में भी अहम भूमिका सिंधिया की ही है।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending