Zindademocracy

रीता बहुगुणा जोशी भी छोड़ सकती हैं पार्टी , दे सकती हैं मंत्री पद से इस्तीफ़ा ! बेटे के लिए मांग रही हैं टिकट , BJP से बात न बनने पर सपा में संभावनाएं तलाशने की अटकलें

नई दिल्ली | यूपी बीजेपी में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले सब ठीक नहीं चल रहा है। कई विधायकों के दामन छोड़ने के बीच रीता बहुगुणा जोशी से जुड़ी खबर भी सामने आई है। ख़बरों के अनुसार, रीता बहुगुणा जोशी ने अपने बेटे के लिए टिकट मांगा है। रीता बहुगुणा अपने बेटे मयंक के लिए लखनऊ कैंट से टिकट चाहती हैं। रीता बहुगुणा लखनऊ कैंट से दो बार विधायक रह चुकी हैं। रीता पहले ही खुद चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान कर चुकी हैं।

एक इंटरव्यू में रीता ने कहा था – ‘मैंने चुनाव न लड़ने का मन बना लिया है. मैं 2019 में भी नहीं लड़ रही थी लेकिन पार्टी का आदेश हुआ तो लड़ा. संन्यास नहीं लूंगी, राजनीति करूंगी, जनता के बीच रहूंगी लेकिन अब कोई भी चुनाव मैं नहीं लूंगी.’

रीता बहुगुणा जोशी ने स्वामी प्रसाद मौर्य के बीजेपी छोड़ने पर भी बयान दिया था. रीता ने मौर्य को जमीनी नेता बताते हुए कहा था कि उन्हें रोका जाना चाहिए. रीता ने कहा था कि स्वामी प्रसाद ने अभी कोई पार्टी ज्वॉइन नहीं की है, इसलिए उन्हें रोका जा सकता है.

आपको बता दें उत्तर प्रदेश में कुल 403 सीटें हैं। यहां मतदान सात चरणों में होना है। इन चरणों के तहत 10 फरवरी, 14 फरवरी, 20 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा। नतीजे 10 मार्च को बाकी राज्य (पंजाब, मणिपुर, उत्तराखंड और गोवा) के साथ आएंगे।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending