Zindademocracy

12 साल की उम्र में गैंगरेप का शिकार हुई पीड़िता, आरोपी 12 साल बाद हुए गिरफ्तार घटना के 28 वर्ष बाद अदालत के आदेश पर आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कराई थी।

उत्तर प्रदेश | यूपी के शाहजहांपुर में 12 साल की उम्र में गैंगरेप की शिकार हुई पीड़िता को 28 साल बाद न्याय मिला है। पुलिस ने गैंगरेप के एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। घटना के 28 वर्ष बाद अदालत के आदेश पर आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कराई थी। जिसके बाद हुए डीएनए टेस्ट में दोनों आरोपियों में से एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पुलिस ने एक आरोपी गुड्डू को गिरफ्तार किया है।

बताते चलें, गैंगरेप के बाद किशोरी गर्भवती हो गई थी और उसने एक बच्चे को जन्म दिया था। बड़े होने पर बच्चे ने अपने पिता का नाम मां से जानने की कोशिश की तो मां ने कोर्ट के आदेश पर केस दर्ज कराया था। जिसके बाद पुलिस ने दोनों के खिलाफ केस दर्ज करते हुए डीएनए टेस्ट कराया था रिपोर्ट आने के बाद डीएनए टेस्ट में एक आरोपी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

मामला थाना सदर बाजार इलाके का है, जहां करीब 28 वर्ष पहले किशोरी अपनी बहन और बहनोई के घर में रहती थी। इस दौरान उसी मोहल्ले में रहने वाले नाकी हसन एक दिन उसके घर में घुस आया और उसने किशोरी से दुष्कर्म किया। हसन के बाद उसके छोटे भाई गुड्डू ने भी किशारी के साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता ने आरोप लगाया कि आरोपियों ने कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। उस वक्त पीड़िता की उम्र 12 साल थी। महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि 13 साल की उम्र में वह गर्भवती हो गई थी और 1994 में उसने एक बच्चे को जन्म दिया था। इस बच्चे को शाहाबाद क्षेत्र के उधमपुर गांव के एक व्यक्ति को दे दिया गया। इसी बीच पीड़िता के बहनोई का स्थानांतरण रामपुर जिले में हो गया और किशोरी भी उनके साथ चली गई।

बेटे ने पूछा, ‘कौन है मेरा बाप’। कोर्ट पहुंची मां।
बहनोई ने किशोरी की शादी गाजीपुर जिले के एक व्यक्ति के साथ करा दी, लेकिन 10 वर्ष बाद जब उसके पति को दुष्कर्म की घटना का पता चला तो उसने अपनी पत्नी को तलाक दे दिया। इसके बाद महिला लखनऊ आकर रहने लगी। तब तक महिला का बेटा बड़ा हो गया था। उसने अपने माता-पिता के बारे में जानना चाहा तो उसे उसकी मां का नाम बता दिया गया। मां से मिलने के बाद उसने अपने पिता का नाम पूछा। इसके बाद मां ने कोर्ट के आदेश पर दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया। पुलिस ने दोनों आरोपियों के डीएनए टेस्ट कराया, जिसके बाद आरोपी गुड्डू का डीएनए टेस्ट पॉजिटिव पाया गया। इस मामले में पुलिस ने आरोपी गुड्डू को ढूंढ निकाला और उसे गिरफ्तार कर लिया।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending