Zindademocracy

UP में EVM को लेकर हंगामा शुरू, सपा कार्यकर्ताओं ने बांदा में रातभर की निगरानी SP कार्यकर्ताओं का कहना है कि, वो अपने वोट की रक्षा करने के लिए स्ट्रांग रूम के बाहर ही मौजूद रहेंगे।

नई दिल्ली | मतगणना से पहले उत्तर प्रदेश में EVM को लेकर हंगामा शुरू हो गया है। EVM को लेकर वाराणसी में हुए हंगामे और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा भाजपा पर लगाए गए आरोपों के बाद सपा कार्यकर्ताओं ने EVM मशीनों की निगरानी करना शुरू कर दिया है। कानपुर, बरेली और बांदा में SP कार्यकर्ता रातभर मतगणना केंद्र के बाहर बनए रहे।

करीब 100 से ज़्यादा सपा कार्यकर्ता 8 मार्च की रात बांदा में EVM की निगरानी के लिए स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर एकत्रित होने के बाद, पुलिस ने मौके पर पहुँच कर कार्यककर्ताओं को समझाने की कोशिश की मगर सपा के कार्यकर्ता हिले नहीं।

SP कार्यकर्ताओं का कहना है कि, वो अपने वोट की रक्षा करने के लिए स्ट्रांग रूम के बाहर ही मौजूद रहेंगे।

EVM मशीनों में हेरफेर ?
मतगणना से पहले मिर्जापुर, वाराणसी समेत कुछ शहरों में अचानक ईवीएम को लेकर अफवाह उड़ गई, जिसके बाद से समाजवादी पार्टी लगातार प्रदेश की बीजेपी सरकार पर हमलावर है। वाराणसी में ईवीएम चोरी होने की अफवाह उड़ने के बाद पहड़िया मंडी में 8 मार्च को खूब हंगामा हुआ। SP कार्यकर्ताओं ने ईवीएम मशीनें यूपी कॉलेज में ले जाते समय उस वाहन को रोककर जमकर बवाल काटा।

मथुरा में भी SP और BSP कार्यकर्ताओं ने EVM चोरी का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया।

इस संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी और जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने कहा कि इन सभी ईवीएम का चुनाव से संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि 10 मार्च को होने वाली मतगणना के संदर्भ में कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जाएगी, उस सिलसिले में यूपी कॉलेज ईवीएम को ले जाया जा रहा था।

इसके बाद समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राज्य सरकार पर EVM की हेराफेरी कर वोटों की चोरी का आरोप लगाया। यादव ने कहा कि योगी आदित्यनाथ के मुख्य सचिव ने प्रशासन को जहां बीजेपी हारती दिख रही हो, वहां मतगणना को धीमा करने का आदेश दिया है। अखिलेश यादव ने साथ ही अपने पार्टी और गठबंधन के नेताओं से काउंटिंग खत्म होने तक चौकन्ना रहने के लिए कहा है।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending