Zindademocracy

Russia Ukraine Crisis: यूक्रेन पर हमले के बाद से रूस पर हो रही बड़ी कार्यवाही, YouTube समेत जानें कहां लगा प्रतिबंध? अमेरिका, कनाडा और ब्रिटेन जैसे तमाम देशों ने रूस पर कई तरह के प्रतिबंधों की घोषणा की है

नई दिल्ली | रूस के यूक्रेन पर हमला करने के बाद से ही रूस पर बड़ी कार्रवाई की जा रही है, इस क्रम में YouTube ने रूसी सरकार के RT सहित कई मीडिया चैनलों के लिए वीडियो विज्ञापन से मिलने वाले पैसे पर प्रतिबंध लगा दिया है। यूट्यूब द्वारा यह कार्रवाई यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बाद की गई है।

अमेरिका, कनाडा और ब्रिटेन जैसे तमाम देशों ने रूस पर कई तरह के प्रतिबंधों की घोषणा की है. यूक्रेन में असाधारण परिस्थितियों का हवाला देते हुए यूट्यूब ने कहा कि कई रूसी चैनलों के मोनेटाइजेशन को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है।

फेसबुक ने भी की कार्रवाई-
बता दे की, यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद अमेरिका समेत कई देशों ने रूस के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा की है. कई बड़ी कंपनियों ने भी रूस को सबक सिखाने के लिए कई अहम फैसले लिए हैं. अब प्रतिबंध लगाने वालों की लिस्ट में पॉपुलर टेक कंपनी गूगल का भी नाम जुड़ गया है।

गूगल ने भी की कार्रवाई-
गूगल ने रूस के आरटी (RT) और कई दूसरे मीडिया चैनलों के लिए यूट्यूब से आने वाले फंड पर प्रतिबंध लगाया है. गूगल की ओर से यह कार्रवाई शनिवार को की गई है. इसी तरह का कदम मेटा द्वारा भी अपने फेसबुक प्लेटफॉर्म के लिए उठाया गया है. फेसबुक ने रूसी मीडिया द्वारा फेसबुक के जरिए कमाई पर रोक लगा दी है।

YouTube के प्रवक्ता आइवी चोई ने बताया-
YouTube के प्रवक्ता आइवी चोई ने कहा कि, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म यूट्यूब कई रूसी चैनलों के मुद्रीकरण पर रोक लगा रहा है, क्योंकि यूरोपीय संघ के हाल के प्रतिबंधों में रूस के कई मीडिया चैनल भी शामिल हैं। मीडिया आउटलेट ने चोई के हवाले से कहा कि, यूट्यूब नए घटनाक्रम के मुताबिक आगे की कार्रवाई कर सकता है.
उन्होंने कहा, ‘हम इन चैनलों के रिकमेंडेशन को जरूरी कदम के तौर पर सीमित कर देंगे.’ यूट्यूब ने यह भी कहा है कि उसने अपनी नीतियों का उल्लंघन करने वाले चैनलों और वीडियो को भी प्लेटफॉर्म से हटा दिया है, जो किसी तरह के धोखेबाजी में शामिल थे।
यूक्रेन सरकार ने की थी अपील

YouTube के प्रवक्ता फरशाद शादलू ने कहा कि, रूसी चैनलों के वीडियो भी रिकमेंडेशन में कम ही आएंगी. उन्होंने कहा कि यूक्रेन सरकार की अपील के बाद आरटी और कई अन्य रूसी चैनल अब यूक्रेन में उपलब्ध नहीं होंगे. यूक्रेन के डिजिटल परिवर्तन मंत्री मायखाइलो फेडोरोव ने शनिवार को ट्वीट किया कि उन्होंने रूसी चैनलों को ब्लॉक करने के लिए YouTube से संपर्क किया है. उन्होंने बताया कि Russia24, TASS, RIA Novosti जैसे रूसी प्रोपेगेंडा वाले चैनलों को ब्लॉक करने की अपील यूट्यूब से की गई थी।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending