Zindademocracy

यूक्रेन से छात्र के शव को लाने पर भाजपा विधायक का विवादित बयान, कहा- एक ताबूत की बजाय 8-10 लोगों को लाया जा सकता है उन्होंने कहा कि, एक डेड बॉडी विमान में अधिक जगह घेरती है।

बेंगलुरू : रूस के यूक्रेन जारी जंग के चलते हजारों भारतीय छात्र यूक्रेन में फसे है। इस बीच कर्नाटक के भाजपा विधायक ने यूक्रेन में मरे छात्र को लेकर विवादित बयान दिया है। कर्नाटक में हुबली-धारवाड़ के भाजपा विधायक अरविंद बेलाड ने कहा कि, किसी विमान में एक ताबूत को रखने की बजाय लगभग आठ से 10 लोगों को बैठाया जा सकता है, उन्होंने कहा कि, एक डेड बॉडी विमान में अधिक जगह घेरती है।

नवीन के पार्थिव शरीर को उनके गृहनगर हावेरी में लाने के बारे में विधायक बेलाड से पुछे गये सवाल पर बेलाड ने संवाददाताओं से कहा कि, सरकार नवीन के पार्थिव शरीर को वापस लाने के लिए प्रयास कर रहे है. यूक्रेन एक युद्ध क्षेत्र है और हर कोई इसके बारे में जानता है. कोशिश की जा रही है और यदि संभव हुआ तो नवीन के शव को वापस लाया जाएगा।

मृतकों की बॉडी को वापस लाना ज्यादा कठिन है- बेलाड
बेलाड ने कहा कि, अभी तो जीवित लोगों को वापस लाना बहुत चुनौतीपूर्ण है, जबकि मृतकों की बॉडी को वापस लाना और भी कठिन है, क्योंकि एक डेड बॉडी का ताबूत विमान में अधिक जगह घेरेगा। इसके बजाय आठ से 10 लोगो को बैठाकर वापस लाया जा सकता है।

नवीन के पिता ने CM, PM से लगाई गुहार-
नवीन के पिता शेखरप्पा ज्ञानगौड़ा ने मीडिया से कहा था कि उन्हें सरकार ने आश्वासन दिया था कि नवीन का शव दो दिनों के भीतर घर वापस लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी और कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई दोनों से अपने बेटे के शव को घर लाने में मदद करने का अनुरोध किया था।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending