Zindademocracy

विवादों में घिरे BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली, बोर्ड के संविधान के खिलाफ जा उठाया यह कदम….

नई दिल्ली : सौरव गांगुली अकसर बयानों के चलते विवादों में फास्ट रहते है। सौरव गांगुली एक बार फिर विवादों में घिर गए है लेकिन इस बार वह अपने बयानों के चलते नहीं बल्कि अपने फैसले को लेकर विवादों में फस गए है। बताया जा रहा है कि, सिलेक्शन कमेटी की बैठक में सौरव शामिल हो गए जिसको लेकर वह विवादों में है।

बता दे कि, BCCI बोर्ड के संविधान के अनुसार सौरव गांगुली जो के अध्यक्ष है, वह इस बैठक में शामिल नहीं हो सकते। सोशल मीडिया पर भी गांगुली के इस कदम को फैंस गलत बता रहे हैं. हालांकि अब तक बीसीसीआई की ओर से इसे लेकर आधिकारिक तौर पर किसी तरह की सफाई नहीं आई है. बोर्ड अभी आईपीएल के मेगा ऑक्शन की तैयारी में जुटा हुआ है।

अधिकारी ने दी जानकारी-
इनसाइड स्पोर्ट्स से बात करते हुए बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा कि, यह पूरी तरह से बकवास और गलत खबर है. वहीं एक अन्य अधिकारी ने कहा, ‘वे कई मौकों पर ऐसा कर चुके हैं. आजकल बीसीसीआई ऐसे ही चलाया रहा है. गांगुली का सेलेक्शन कमेटी की बैठक में शामिल होने का कोई औचित्य नहीं है. यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.’ इससे पहले गांगुली ने कहा था कि उन्होंने कोहली से कहा था कि वे टी20 की कप्तानी ना छोड़ें. लेकिन कोहली ने ऐसी किसी बात से इंकार कर दिया था।

बैठक में क्यों नहीं जा सकते है सौरव-
इससे पहले यह बात सामने आई थी कि एक अधिकारी बिना नियम के ही सेलेक्शन कमेटी की बैठक में शामिल हो रहा था. कोच और कप्तान दोनों उसके सामने असहाय थे. वे कुछ नहीं कर सके. बोर्ड के नियम के अनुसार, बीसीसीआई का सचिव बैठक में शामिल हो सकता है. लेकिन टीम चयन की पूरी जिम्मेदारी सेलेक्टर्स की ही होती है. सोशल मीडिया पर फैंस कह रहे हैं कि सौरव गांगुली का यह कदम बिल्कुल गलत है. इस तरह का काम कभी नहीं होना चाहिए।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending