Zindademocracy

Punjab assembly elections: केजरीवाल का बड़ा बयान, कहा-“धर्म परिवर्तन के खिलाफ कानून बनना चाहिए”

नई दिल्ली : पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए AAP का प्रचार अब जोर पकड़ने लगा है। राजनीतिक रैलियों पर कोरोना के कारण प्रतिबंघ लगा हुआ है लेकिन विभिन्न माध्यमों से नेता चुनाव प्रचार कर रहे हैं, जिसमें सबसे ज्यादा प्रेस कांफ्रेंस के जरिए नेता अपनी बात रख रहे हैं। आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने आज बड़ा बयान देते हुए कहा है कि, धर्म परिवर्तन के खिलाफ कानून बनना चाहिए लेकिन इसका मकसद किसी को परेशान करना नहीं होना चाहिए।

मैंने बनियों का दिल जीता है, इसलिए मुझे वोट देते है –
दूसरी तरफ केजरीवाल ने कहा कि, दिल्ली के बनिया पहले मुझे वोट नहीं देते थे, अब देने लगे हैं क्योंकि मैंने उनका दिल जीता है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में बनिया को पहले बीजेपी का वोट बैंक माना जाता था. मैं खुद बनिया हूं लेकिन दिल्ली के बनिया ने मुझे कभी वोट नहीं दिया. अब देने लगे हैं. क्योंकि पांच साल में हमने सबका दिल जीता है, हमने कभी इनको डराया नहीं है।

अगर मैं लोगों को डराता, पर्चे करता, तो मेरी हिम्मत नहीं होती यहां यह बात कहने की. मैं आपके सामने यह नहीं कह पाता कि फोन करके दिल्ली में पूछ लेना. फिर सब कहते केजरीवाल गंदा आदमी है, इसे वोट मत देना, लेकिन आज मैं यहां खड़ा इसलिए हूं क्योंकि मैंने दिल जीता है. आपका भी दिल जीतना है मुझे, पांच साल देके देख लो हमें।

धर्म परिवर्तन कानून का इस्तेमाल डराने के लिए नहीं-
अरविंद केजरीवाल ने चुनाव अभियान के तहत जालंधर में कहा कि धर्म पूरी तरह से निजी मामला है. सभी को अपनी-अपनी मान्यताओं के हिसाब से पूजा करने का अधिकार है. धर्म परिवर्तन के खिलाफ निश्चित रूप से कानून बनना चाहिए लेकिन इसका इस्तेमाल गलत रूप से किसी को धमकाने के लिए नहीं होना चाहिए. धर्म परिवर्तन की आड़ में किसी को डराना गलत है।

उन्होंने भगवंत मान के बारे में कहा कि भगवान करें कि वे पंजाब के सीएम बने और वे मरते दम तक सीएम रहे ताकि पंजाब के लोगों के दुख दूर हो सके. अगर पंजाब के लोगों के लिए इमानदारी से वे काम करेंगे तो कोई नहीं उन्हें हरा सकता।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending