Zindademocracy

कानपूर : 1 लाख की रिश्वत लेते महिला दरोगा को क्राइम ब्रांच ने रंगे हाथ किया गिरफ्तार महिला दारोगा कोतवाली में तैनात एक होमगार्ड के साथ पनकी स्थित एक घर में रैकेट की सूचना पर छापा मारने गई

उत्तर प्रदेश | एडिशनल डीसीपी पूर्वी राहुल मिठास के कार्यालय में तैनात महिला दरोगा भुवनेश्वरी सिंह को शुक्रवार रात क्राइम ब्रांच ने एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। महिला दारोगा कोतवाली में तैनात एक होमगार्ड के साथ पनकी स्थित एक घर में रैकेट की सूचना पर छापा मारने गई और मौके से जालौन के दो कारोबारियों को पकड़कर उन्हें बंधक बना लिया।

करीब तीन घंटे तक वह दोनों कारोबारियों को अपनी कार में बैठा कर शहर भर में घूमती रही और छोड़ने के एवज में 15 लाख रुपये मांगे। किसी तरह से दोनों कारोबारी महिला दारोगा के चंगुल से छूटे और पुलिस आयुक्त से मिलकर पूरे घटनाक्रम से उन्हें अवगत कराया। इसके बाद पुलिस आयुक्त ने क्राइम ब्रांच को लगाकर महिला दरोगा को रिश्वत लेते गिरफ्तार करा दिया। महिला दोरागा, होमगार्ड और रैकेट चलाने वाली महिला के खिलाफ पनकी थाने में मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक महिला दारोगा भुवनेश्वरी सिंह का राहुल नाम का एक मुखबिर पनकी निवासी है। उसने उन्हें शाम को सूचना दी कि पनकी में एक एमए जैदी नाम की महिला रैकेट चलाती है। उसके घर पर जालौन से दो कारोबारी आए हैं। महिला दारोगा को यहां छापा मारने का कोई अधिकार नहीं था, बावजूद इसके वह कोतवाली में तैनात होमगार्ड संजीव विश्वकर्मा को लेकर वहां पहुंच गई। दोनाें कारोबारियों को रंगे हाथ पकड़ लिया।

इसके बाद महिला दारोगा से एक लाख रुपये में सौदा पटा। रुपये देने के लिए उसे सरसैया घाट बुलाया गया। जैसे ही लेनदेन हुआ, क्राइम ब्रांच ने महिला दारोगा और होमगार्ड को मौके से गिरफ्तार कर लिया। संयुक्त पुलिस आयुक्त ने बताया कि पनकी में महिला दारोगा, होमगार्ड, उसके मुखबिर और रैकेट चलाने वाली महिला के खिलाफ अपहरण, रंगदारी आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

 

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending