Zindademocracy

यूक्रेन पर हमले के बाद रूस की जनता को करना पड़ रहा है इन 10 परेशानियों का सामना पुतिन की आक्रामकता की कीमत सिर्फ यूक्रेनी नहीं बल्कि रूस की आम जनता भी चुका रही है

नई दिल्ली | रूस के यूक्रेन पर किये गए हमले का खामियाज़ा अब रूस की आम जनता को भी उठाना पद रहा है। यूक्रेन और रूस के बीच जारी जंग से दोनों ही देशों की आम जनता परेशान है। जंग में दोनों तरफ से हजारों आम नागरिकों और सैनिकों की मौत हो चुकी है।

पश्चिमी देशों के प्रतिबंधों के बीच रूस पर युद्ध की आर्थिक कीमत भारी पड़ने लगी है। रूस की करेंसी डॉलर के मुकाबले अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गयी है।
आसमान छू रही आयात की कीमतों के बीच रूसी बैंकों पर लगे प्रतिबंधों ने वित्तीय बाजारों में खलबली मचा दी है।

इसके कारण रूस की आम जनता को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है :-

1. यूक्रेन में पुतिन द्वारा “विशेष सैन्य अभियान” की घोषणा के बाद से पूरे रूस में एटीएम के पास लंबी कतारें देखी गई हैं। आर्थिक अनिश्चितता के बीच रूसी जनता नकदी निकालने की जल्दबाजी में है – फॉरेन करेंसी और साथ ही स्थानीय करेंसी रूबल भी।

2. रूस में इस समय बहुत सीमित मात्रा में फॉरेन करेंसी उपलब्ध हैं और यहां तक की इसपर ऊपरी सीमा भी तय है कि एक व्यक्ति कितने रूबल निकाल सकता है।

3. यूक्रेन पर रूसी हमले शुरू होने के बाद टेक कंपनी Apple ने यहां अपने उत्पादों को बेचना बंद कर दिया है और रूस में Apple Pay के उपयोग पर भी लिमिटेशन लगा दी है।

4. कुछ रूसी बैंकों के खिलाफ प्रतिबंधों का मतलब है कि वे Visa और मास्टरकार्ड सिस्टम से कट गए हैं। इसका मतलब यह है कि कई रूसी अपने फोन का उपयोग उन कई आवश्यक सेवाओं के पेमेंट के लिए अब नहीं कर सकते हैं, जिनका वे अबतक उपयोग करते रहे हैं।

5. Dell Technologies ने रूस में अपने लैपटॉप और अन्य उत्पादों की बिक्री पर रोक लगा है। Google ने फेसबुक और यूट्यूब के साथ मिलकर यह घोषणा की है कि वे रूस की सरकारी मीडिया को अपने प्लेटफॉर्म पर पैसा कमाने से रोकेंगे।

6. अमेरिका और कई यूरोपीय देशों द्वारा लगाए गए एयरस्पेस बैन के कारण उन देशों में/से फ्लाइट्स यहां नहीं आ/जा रहीं। इस कारण विदेशों में रहने वाले या वहां गए हजारों रूसी टूरिस्ट अपने देश के बाहर फंस गए हैं।

रूसी जनता के लिए राष्ट्रपति पुतिन की इस आक्रामकता ने मनोरंजन के साधनों पर भी चोट की है।

7. FIFA और UEFA ने रूसी फुटबॉल क्लबों और राष्ट्रीय टीमों को सभी प्रतियोगिताओं से सस्पेंड कर दिया है। वर्ड रग्बी ने रूस को सभी “अंतर्राष्ट्रीय रग्बी और क्रॉस-बॉर्डर रग्बी एक्टिविटीज” से सस्पेंड कर दिया है।

8. फॉर्मूला 1 ने Russian Grand Prix के साथ अपने कॉन्ट्रैक्ट को समाप्त कर दिया है। इंटरनेशनल बास्केटबॉल फेडरेशन ने पुष्टि की है कि रूसी टीमों और अधिकारियों को Fiba बास्केटबॉल और 3×3 बास्केटबॉल प्रतियोगिताओं में भाग लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी। यानी अब रूसी जनता अपनी टीम को इन प्रतियोगिताओं में नहीं देख पायेगी।

9. हॉलीवुड की दुनिया ने भी रूसी लोगों से दूरी बना ली है। यूनिवर्सल पिक्चर्स ने रूस में पहले से प्लान किए थिएटर रिलीज को रोक दिया है। सोनी ने अपनी आने वाली फिल्मों की रिलीज पर रोक लगा दी है।

10. पैरामाउंट पिक्चर्स ने कहा है कि द लॉस्ट सिटी और सोनिक द हेजहोग 2 रूस में रिलीज नहीं होगी। वॉल्ट डिजनी कंपनी ने भी टर्निंग रेड सहित रूस में अपनी फिल्म रिलीज को रोकने का भी फैसला किया है।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending