Zindademocracy

कैराना : सपा विधायक और गठबंधन प्रत्याशी नाहिद हसन के पर्चा दाखिल करते ही, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि सपा व सहयोगियों पर FIR, प्रत्याशी की गिरफ़्तारी व नेताओं को धमकी जैसे कायराना कृत्य दिखा रहे हैं कि भाजपा 100% हताश है।

उत्तर प्रदेश | नाहिद हसन (कैराना से सपा विधायक और गठबंधन प्रत्याशी) को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। नाहिद को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने नाहिद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। दरअसल, पहले चरण के चुनाव के नामांकन के पहले दिन ही, गैंगस्टर के मुकदमे में फरार चल रहे नाहिद हसन के प्रस्तावकों ने वकील की मौजूदगी में एसडीएम कोर्ट शामली में पर्चा दाखिल कराया।

नाहिद हसन के प्रस्तावक मनीष और इंतजार ने एडवोकेट राशिद चौहान की मौजूदगी में एसडीएम कोर्ट से नामांकन पत्र लेकर उसे दोपहर के बाद दाखिल करा दिया।

नाहिद हसन 2017 में विधायक बने थे, लेकिन विवादों से उनका रिश्ता काफी पुराना है। नाहिद हसन और जिला प्रशासन का टकराव पिछले कुछ वर्षों में काफी चर्चा में रह चुका है। कैराना कोतवाली समेत कई थानों में उनके खिलाफ दो दर्जन के करीब मुकदमें दर्ज हैं। सीओ और एसडीएम से बदतमीजी के आरोप में दर्ज मुकदमें में तो उनकी फरारी की मुनादी तक कराई गई थी। करीब 11 महीने पहले कैराना कोतवाली में विधायक नाहिद हसन, उनकी मां पूर्व सांसद तबस्सुम हसन समेत 40 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया था तभी से नाहिद हसन और उनकी मां तबस्सुम हसन फरार थे।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending