Zindademocracy

Asian Champions Trophy Hockey: दूसरे सेमीफाइनल में जापान से 3-5 से हारा भारत, ब्रॉन्ज मेडल के लिए अब पाकिस्तान से होगी भिड़ंत

पिछली बार की चैम्पियन भारतीय पुरुष हॉकी टीम का यहां बांग्लादेश की राजधानी ढाका में जारी एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी (एसीटी) में चला आ रहा विजय अभियान जापान के हाथों हारकर थम गया। एशियाई चैम्पियंस ट्राफी हॉकी 2021 के दूसरे सेमीफाइनल में मंगलवार को भारत को जापान के खिलाफ 3-5 से हार का सामना करना पड़ा। दूसरे सेमीफाइनल में हारने के बाद भारतीय टीम अब ब्रॉन्ज मेडल के लिए पाकिस्तान से भिड़ेगी। वहीं, जापान की टीम फाइनल में कोरिया का सामना करेगी। 

जापान ने मुकाबले में अटैकिंग शुरुआत की। पहला क्वार्टर पूरी तरह से जापान के नाम रहा। जापान ने पहले क्वार्टर की शुरुआत में ही 2-0 की बढ़त बना ली। जापान के लिए पहला गोल शोटा यमादा ने पेनाल्टी कॉर्नर पर किया। वहीं, दूसरा गोल भी पेनाल्टी कॉर्नर पर हुआ, जोकि रैकी फुजीशाम ने दूसरे मिनट में किया। 

हालांकि दूसरे क्वार्टर में भारत ने वापसी की। भारत ने 17वें मिनट में दिलप्रीत के शानदार गोल की मदद से स्कोर 1-2 कर दिया। इसके बाद भारत ने 19वें मिनट में बराबरी करने का मौक गंवा दिया। 24वें मिनट में भारतीय गोलकीपर कृष्ण पाठक ने जापान को तीसरा गोल दागने से रोक दिया। इसी मिनट में वीडियो अंपायर ने जापान के पीसी को खारिज कर दिया। हालांकि जापान ने अपना आक्रमण जारी रखा और 29वें मिनट में पेनाल्टी पर एक और गोल दागकर हाफ टाइम तक अपनी बढ़त को 3-1 तक पहुंचा दिया। जापान के लिए तीसरा गोल योशिकी किरीशिता ने किया। पहले हाफ में जापान ने चार पीसी हासिल किए जबकि भारत को केवल एक ही मिला। 

दूसरे हाफ में भारत को जापान की बराबरी करने के लिए कड़ी मेहनत करने की जरूरत थी। दूसरे हाफ में भारत को जापान की बराबरी करने के लिए कड़ी मेहनत करने की जरूरत थी। लेकिन जापान की टीम दूसरे हाफ में भी भारत पर हावी रही। जापान ने 35वें मिनट में एक और शानदार गोल करते हुए भारत के खिलाफ स्कोर को 4-1 तक पहुंचा दिया। टीम के लिए यह गोल कोसेई कवाबे ने दागा। जापान ने इसके बाद 41वें मिनट में भी टनाका के बेहतरीन गोल की मदद से 5-1 की विशाल बढ़त बना ली। 

चौथे और अंमित क्वार्टर में भी जापान ने शानदार खेल दिखाया। भारत ने हरमनप्रीत के गोल से स्कोर 2-5 कर दिया। इसके बाद 60वें मिनट में हार्दिक ने गोल करके स्कोर 3-5 कर दिया। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी और इसके बाद भारतीय टीम को और कोई बड़ा चमत्कार नहीं कर पाई और उसे जापान के हाथों 3-5 से हार का सामना करना पड़ा। इस जीत के साथ ही जापान ने राउंड रॉबिन मैच में भारत के हाथों मिली 0-6 की हार का बदला भी ले लिया।   

Source

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending