Zindademocracy

यूपी चुनाव 2022: करहल में सीएम योगी का वार, कहा- ‘जिन लोगों में अभी ज्यादा गर्मी निकल रही है, ये गर्मी 10 मार्च के बाद अपने आप शांत हो जाएगी’

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दुसरे चरण के प्रचार के आखिरी दिन मैनपुरी के करहल में योगी अदित्यनाथ जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने ने कहा कि, करहल विधानसभा क्षेत्र में हार को देखकर समाजवादी पार्टी के नेताओं ने आपा खो दिया है। एसपी सिंह बघेल (केंद्रीय मंत्री और भाजपा उम्मीदवार) पर हमला उनकी कायरता का उदाहरण है.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने आग कहा कि मैं यहां आपको आश्वासन देने आय़ा हूं कि मैंने मरम्मत के लिए भेज दिए है. 10 मार्च के बाद जब ये फिर से प्रारंभ होंगे तो जिन लोगों में अभी ज्यादा गर्मी निकल रही है, ये गर्मी 10 मार्च के बाद अपने आप शांत हो जाएगी. हम उन सभी के लिए 10 मार्च के बाद बुलडोजर का उपयोग करेंगे जो पिछले साढ़े 4 साल से छिपे हुए थे लेकिन चुनाव के दौरान बाहर आए थे.

अखिलेश पर साधा निशाना-
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, मैं कल देख रहा था कि सपा प्रत्याशी अखिलेश यादव ने नामांकन के लिए करहल आए थे तो, अब दोबारा सर्टिफिकेट लेने के लिए आऊंगा, लेकिन एसपी सिंह बघेल ने उनको 5वें दिन ही यहां आने पर मजबूर कर दिया. उनक स्थिति आसमान से टपके और खजूर में अटके वाली हो गई है.

आयोध्या का किया जिक्र-
मुख्यमंत्री ने कहा कि 2017 में हम लोग आए थे। हम लोगों ने कहा था रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे. हम लोगों ने जो कहा वो किया, क्या ये काम सपा, बसपा या कांग्रेस करती? उन्होंने काह कि कोरोना काल ने पूरी दुनिया को रोक दिया लेकिन राम मंदिर का रास्ता नहीं रोक पाया. साल 2023 तक भगवान राम का भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा और राम मंदिर भारत का राष्ट्रीय मंदिर होगा. सीएम योगी ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव स्वघोषित प्रत्याशी हैं. उन्होंने कहा कि सपा नेता टीका नहीं लगवा रहे थे, अगर टीका नहीं लगवाएंगे तो कोरोना कैसे पीछा छोड़ेगा. ये हमारे हितचिंतक नहीं हमारी जान के साथ खिलवाड़ कर रहे थे.

2023 तक भगवान राम का भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएग – यागी
साल 2023 तक भगवान राम का भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा और राम मंदिर भारत का राष्ट्रीय मंदिर होगा. सीएम योगी ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव स्वघोषित प्रत्याशी हैं. उन्होंने कहा कि सपा नेता टीका नहीं लगवा रहे थे, अगर टीका नहीं लगवाएंगे तो कोरोना कैसे पीछा छोड़ेगा. ये हमारे हितचिंतक नहीं हमारी जान के साथ खिलवाड़ कर रहे थे.

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending