Zindademocracy

बीजेपी नेता पश्चिमी यूपी की किलेबंदी के लिए उतरेंगे ज़मीन पर, कैराना में रहेंगे अमित शाह यूपी सहित पांच राज्यों में चुनाव के ऐलान के साथ ही चुनाव आयोग ने कोरोना की वजह से नेताओं के रैलियों और रोड शो पर प्रतिबंध लगा दिया था. उस प्रतिबंध को 22 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया था.

उत्तर प्रदेश | विधानसभा चुनाव को लेकर आज का दिन उत्तर प्रदेश के लिए राजनीतिक सरगर्मियों से भरा रहने वाला है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और सीएम योगी आदित्यनाथ पश्चिमी यूपी का दौरा करेंगे।

सात चरणों में होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले दो चरणों के लिए बीजेपी की रणनीति को मजबूत और अभेद्य बनाने के लिए बीजेपी के ये तमाम नेता आज पश्चिमी उत्तर प्रदेश (यूपी) में होंगे।

विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश में अपने पहले राजनीतिक कार्यक्रम में, गृह मंत्री अमित शाह पश्चिमी यूपी के कैराना में बीजेपी उम्मीदवार के लिए घर-घर प्रचार करेंगे।

इसके बाद अमित शाह मेरठ में वरिष्ठ और प्रतिष्ठित नागरिकों के साथ बातचीत करेंगे। ;शाह का कैराना दौरा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि बीजेपी नेताओं ने 2017 के विधानसभा चुनावों के दौरान आरोप लगाया था कि धमकियों के कारण बड़ी संख्या में हिंदुओं को इस क्षेत्र से पलायन करने के लिए मजबूर किया गया था।

इसके अलावा जेपी नड्डा पश्चिमी यूपी में संगठनात्मक बैठकें करेंगे। वो बिजनौर और गजरौला में कार्यकर्ताओं और पार्टी पदाधिकारियों के विधानसभा क्षेत्र में जाकर लोगों से मुलाकात करेंगे।

वहीं बात अगर सीएम योगी आदित्यनाथ की करें तो वो अलीगढ़ और बुलंदशहर में बीजेपी प्रत्याशियों के समर्थन में घर-घर जाकर प्रचार करेंगे। योगी अलीगढ़ और बुलंदशहर में प्रतिष्ठित और वरिष्ठ नागरिकों से बातचीत करेंगे।

वहीं चुनाव आयोग शनिवार को तय करेगा कि रैलियों पर प्रतिबंध जारी रखना है या नहीं। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में 8 जनवरी को चुनाव की तारीखों की घोषणा करते हुए, चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक रैलियों, रोड और बाइक शो और इस तरह के प्रचार कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की ​थी।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Trending